Press "Enter" to skip to content

Art And Pen....✍️कला और कलम….✍️

दर्द ऐ मोहब्बत | दीपशीखा अग्रवाल

 प्रतिबंधित हैं इश्क़ मेरा,कोई बंधन नहीं अब हमारें दरमियाँ।नाराज़ हैं वो मुझसें,के तानें मारतें हैं रहतें।कहते तुम बदल गए,और खुद खफ़ा रहतें।ज्यादा कुछ नहीं,एक दोस्त…

दयालु रामू | Rohit Tripathi

 चौराहे पर खड़ी सैकड़ों मजदूरों की भीड़ सिर्फ इस आश में राहे तक रही थी कि सायद अब लाक डॉउन समाप्त होने पर उन्हें कोई…

Happy Teacher Day|Hrishikesh.P.Mondhe

 Happy Teacher Day रोज सुबह मिलते है इनसे,क्या हमको करना है ये बतलाते है |ले के तस्वीरें इन्सानों की,सही गलत का भेद हमें ये बतलाते…

दहेज उत्पीड़न | Arpita

 “मैंने दहेज़ नहीं माँगा”साहब मैं थाने नहीं आउंगा,अपने इस घर से कहीं नहीं जाउंगा,माना पत्नी से थोड़ा मन-मुटाव था,सोच में अन्तर और विचारों में खिंचाव…

जब भी मैंने सोचा
(कृष्ण और राम की गाथा की कल्पना में) | चंदन अंजू मिश्रा

 जब भी मैंने सोचा कि प्रेम लिखूँ,तो मैंने तो कृष्ण की वृन्दावन में मधुर बजती बंसी को लिखा,राम का सीता की खातिर रावण की अपार…

THE DAWN OF THE DAY |Poorvika Agrawal

  The dawn of the day is as mesmerizing as you are. only the lucky ones can see the dawn of the day. Yes, you…

दौलत और रिश्तो की अहमियत | Aasim Dhanji

 वैसे दौलत से ज्यादा अहमियत रिश्तो की होती है जिंदगी में,लेकिन आज मैं कुछ ऐसा बताने जा रहा हूं जिस पर शायद हम सब को…

माँ का राजदुलारा था | Bhavdeep Saini | 17 August 2017

  लंबा जिसका कद थाघर में उसका ही बड़ा पद थाआवाज़ उसकी भारी थीछवि सबसे न्यारी थी माँ का राजदुलारा थाघर का वो चमकता सितारा…